उदासी

हर एक चेहरे पर उदासी ही उदासी छायी है, सबकी जिंदगी देखो इस मुकाम पर आयी है। थोड़ी-सी सर्दी खांसी, जुकाम क्या हुई ; अपने अपनों से ही बहुत दूर हैं, किस कदर वो एक-दूसरे से अलग-अलग रहने को आज मजबूर हैं|| Stay home, stay safe!!❣♥️

Blog at WordPress.com.

Up ↑